गढ़ाकोटा Rahas Lokotsav में 1988 व्यक्ति शासकीय योजनाओं से हुए लाभांवित

bhargav-rahas

सागर (sagarnews.com)। गढ़ाकोटा मेला रहस लोकोत्सव Rahas Lokotsav के तीसरे दिवस में आदिवासी समाज गौरव सम्मेलन एवं जनजातीय समाज के जनप्रतिनिधियों के सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव शामिल हुए। भार्गव ने बड़े देव की पूजा, बिरसा मुंडा, रानी दुर्गावती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलन कर आदिवासी समाज की कन्या पूजन के साथ आदिवासी गौरव सम्मेलन का शुभारंभ किया।

भार्गव का मंचीय अभिवादन आर .के. श्रोती उपायुक्त ,के. बी. अहिरवार संयोजक आदिम जनजातीय कार्य विभाग ने किया। मंचासीन समाज के वरिष्ठ जनों का शाल, श्रीफल, स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।रहस मेला परिसर में आये हुए आदिवासी बंधुओं के लिये आदिम जाति कल्याण विभाग के द्वारा योजनाओं की प्रदर्शनी ,आदिवासी समाज के वीर जन नायकों की लघु फ़िल्म एवं रहली क्षेत्र में हुए विकास कार्यों का प्रदर्शन किया गया। मंच संचालन विक्की जैन ने किया। आभार के. बी .अहिरवार संयोजक ने जताया।

कार्यक्रम को अभिषेक भार्गव, आर .के .श्रोती उपायुक्त,रेंजर धीर सिंह, पन्नालाल छपरा,गजेंद्र सिंह गौड़, कमल पुरते, भरत मुंडा,बबिता ठाकुर,अजमेर बोमा,राजेश शाह,आदि ने सम्बोधित किया।

भार्गव ने उपस्थित आदिवासी बंधुओ को सम्बोधित करते हुए कहा कि ग्राम कड़ता में आदिवासी समाज के सम्मेलन ,रानी दुर्गावती की प्रतिमा स्थापना,पार्क निर्माण,आदिवासी वीर जननायकों की स्मृति में संग्रहालय की स्थापना की गई। आदिवासी वर्ग को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का कार्य मध्यप्रदेश सरकार का प्रथम कार्य है।

उन्होंने कहा कि आज मैं अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर अभिभूत हो रहा हूं कि आप सभी का सम्मान करने का मौका प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि आदिवासियों को समाज की मुख्यधारा से जोड़कर देश के मुख्य पटल पर उनकी पहचान स्थापित की गई है। उन्होंने कहा कि आपकी संस्कृति की रक्षा करना हमारा धर्म एवं कर्म है।

भार्गव ने कहा कि आप अपने बच्चों को पढ़ाने का कार्य करें। उन्होंने कहा कि जो आदिवासी बेटी कक्षा 12वीं पास करेगी, उसको नौकरी दिलाने का कार्य मैं करूंगा। जिसमें आप सभी को निशुल्क प्रवेश दिया जाएगा। जिसके माध्यम से आदिवासी बच्चों की पढ़ाई निशुल्क होगी और आप समाज की मुख्यधारा से जुड़ सकेंगे।

मध्यप्रदेश सरकार के द्वारा समाज के उत्थान के लिये अनेक योजनाओं का लाभ प्रदान किया जा रहा है। कुटीर ग्रामोद्योग मंत्री ने आगे कहा कि विवाह सम्मेलन में आदिवासी कन्याओं का कन्यादान लिया जाएगा।दूल्हा और दुल्हन के हजारों घरातियों बरातियों के साथ बारात निकालकर शाही शादी कराई जाएगी। मेला रहस् को जनोपयोगी और लोककल्याण कार्यों के साथ जिले के आम लोगों के लिये एक साथ सभी विभागों के हितलाभ प्रदान करना ही मेला रहस् के आयोजन की सार्थकता है।

आदिवासी समाज के लिये मैने पानी की बोतलें, रंगीन छाते, चप्पलों का वितरण किया था। भार्गव ने आगे कहा कि मेरा प्रयास है कि आने वाले समय में रहली के ग्राम कड़ता की भूमि आदिवासी समाज के वीरों की गौरव गाथा के लिये पहचानी जाये।कार्यक्रम का संचालन विक्की जैन ने किया।

तीसरे दिवस मंच से श्री भार्गव ने अनेक हितग्राहियों को हितलाभ,दिव्यांग लोगों को कृत्रिम उपकरण,केलिपर्स, तिपहिया साइकिल ,बैशाखी, गेड़ी, कृत्रिम अंग, वितरण, सम्बल, कामगार, मजदूरी कार्ड सहयोग अनुग्रह राशि का वितरण किया गया। अंत में रहस लोकोत्सव समिति अध्यक्ष अभिषेक भार्गव ने व्यक्त किया।